Principal Message

दो शब्द प्राचार्य की ओर से

प्रिय विद्यार्थियों,
मुझे प्रसन्नता है कि अलियापुर सजेती और निकट के ग्रामीण अंचल के विद्यार्थियों को प्रबुद्ध एवं सुशिक्षित बनाने के उद्देश्य से स्थापित इस  महाविद्यालय के रूप में आपको माँ सरस्वती की आराधना का अनुपम अवसर प्राप्त हो रहा है, इस पवित्र कार्य में अपने साथ-साथ आपको सम्मिलित कर मुझे असीम प्रसन्नता होगी l
माँ सरस्वती के पवित्र आँगन में आप परिश्रम व लगन से ज्ञानार्जन कर  अपने सुन्दर भविष्य का निर्माण कर सकते है l इस कार्य में योग्य शिक्षक आपके पथ प्रदर्शक होगे l यदि आप शिक्षकों के प्रति आदर व सम्मान का भाव रखते हुए मार्गदर्शन प्राप्त करेगें तो निश्चय ही उनके स्नेह व आर्शीवाद से प्रगति के पथ पर आरून होगे l
इस महाविद्यालय में शिक्षण के साथ संगोष्ठी, कार्यशाला, समूह चर्चा, खेलकूद व सांस्कृतिक कार्यक्रमों का भी आयोजन होता रहेगा, जो आज के प्रतियोगात्मक समय में आपके व्यक्तित्तव  का सर्वागीण विकास करेगे l इस महाविद्यालय में शिक्षा ग्रहण करते हुए आप सब अनुशासन बनाये रखते हुए उपलब्ध अवसरों का लाभ उठाकर प्रगति करेगें, यही मेरी कामना है l
सधन्यवाद !